मोटापे से छुटकारा पाने के आसान, असरदार और अचूक घरेलू उपाय

 

दोस्तों आजकल की जीवनशैली (lifestyle) के अनुसार मोटापा बढ़ना एक आम बात हो गई है। मोटापा को अंग्रेजी में Obesity कहते है। जब शरीर में fat का अधिक भंडारण होता है तब मोटापा की स्थिति पैदा होती है। मोटापा की समस्या पूरे विश्व में लगातार बढ़ रही है। आजकल व्यक्ति का lifestyle चेंज होने से लोग अपनी सेहत के ऊपर ध्यान नहीं देते। जैसे- सुबह लेट तक सोना, ऑफिस में लैपटाप के सामने काम करते रहना, भूख लगने पर फास्ट फूड खा लेना, रात को लेट तक काम करते रहना। इससे लोग अपनी सेहत पर ध्यान नहीं दे पाते। मोटापा की समस्या इन्ही कारणों से होती है।

मोटापे के प्रमुख लक्षण निम्न प्रकार से हैं :

 

• बिना किसी अतिरिक्त कार्यभार के लगातार थकान का अनुभव करना या छोटे-छोटे कार्यों को करने में साँस फूलना मोटापे का लक्षण है।

• अचानक से बार-बार बहुत पसीना आना यह दर्शाता है कि व्यक्ति मोटापे से ग्रसित है।

• सोते समय खर्राटे आना यह भी मोटापे का लक्षण है मोटापा बढ़ने के साथ-साथ यह समस्या और भी बढ़ती जाती है।

• मोटापे की समस्या से ग्रसित लोगों में पीठ और जोड़ों के दर्द सामान्य रूप से देखा जा सकता है।

• पेट संबंधी परेशानी पैदा होना जैसे पेट का फूलना, गैस की समस्या पैदा होना, पेट दर्द रहना इत्यादि।

• आवश्यकता से ज्यादा नींद आना या कम नींद आना मोटापे का लक्षण है।

• थोड़ा चलने पर साँस लेने में रूकावटें पैदा होना या साँस तेजी से चलना।

• सेक्स की इच्छा में कमी आना या सेक्स संबंधी दुर्बलता पैदा होना।

• शरीर के विभिन्न भागों पर अतिरिक्त चर्बी का जमना।

• शरीर के अलग अलग हिस्सो में सूजन आना।

• मोटापे में अकेलापन अनुभव करना एक आम बात है। शारीरिक परिवर्तनों के चलते लोग स्वयं को सबसे अलग और अकेला महसूस करते हैं।

• मानसिक और मनोवैज्ञानिक लक्षण जैसे आत्म-सम्मान, आत्मविश्वास में कमी जैसे लक्षण देखे जा सकते है।

 

यह सभी लक्षण अगर आपमें भी दिखाई दे, तो आपको तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए ताकि समय रहते भविष्य में आने वाली बीमारियों से बचा जा सके।

 

motapa ka karne ke asardar upay

 

बॉडी मास इंडैक्स (BMI)अर्थात शरीर द्रव्यमान सूचकांक के द्वारा हम ये पता कर सकते हैं कि हमारे शरीर का भार हमारी लंबाई के अनुसार सही है या नहीं। बॉडी मास इंडैक्स की गणना हम नीचे दिए गए सूत्र से कर सकते हैं।

 

बॉडी मास इंडेक्स (बी-एम-आई) = वजन किलोग्राम / लम्बाई मीटर2

 

बॉडी मास इंडैक्स            स्थिति

18.5 से नीचे                   सामान्य से कम वज़न

18.5 – 24.9                  सामान्य

25 – 29.9                     सामान्य से अधिक वज़न

30 – 34.9                    मोटापा

35 – 39.9                    अति मोटापा

> 40                             अस्वस्थ मोटापा

(1 फुट में 12 इंच होते हैं और 1 इंच में 2.54 सेंटीमीटर होते हैं।)

 

मोटापा बढ़ाना तो बहुत आसान है पर मोटापा कम करना (motapa kam karna) या घटाना उतना ही मुश्किल। इसलिए हो सके तो मोटापा जितना जल्दी हो उतनी जल्दी कम कर लेना चाहिए क्योंकि अगर हम समय के साथ वजन न घटाये तो हमें अन्य बीमारियां भी हो सकती है जैसे- मधुमेह (Diabetes), ब्लडप्रेशर (Blood Pressure), Heart Problems आदि कई तरह की बीमारी भी हो सकती है। वर्तमान समय में motapa kam karne की सैंकड़ों दवाइयां बाजार में उपलब्ध है। जो मोटापा कम करने की 100% गारंटी देती है किन्तु वास्तविक रूप में ये दवाएं सीमित समय के लिए प्रभावित होती है और स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालती है।

 

इस पोस्ट में हम मोटापा कम करने वाले उपाय “motapa kam karne ke asardar upay in hindi” के बारे में बात करेंगें जिनको आजमाकर मोटापे से छुटकारा पाया जा सकता है आइये अब शुरू करते है।

 

वज़न कम करने और मोटापे से छुटकारा पाने के आसान और घरेलू उपाय

 

ज्यादा मात्र में पानी पियें

पानी के जरिये आप मोटे होने से बच सकते है, हर रोज 12 से 15 लीटर पानी पियें। खास कर भोजन करते वक्त हमेशा खाने से 30 मिनट पहले और खाना खाने के ठीक पहले पेट भर कर पानी पिये। इससे भूख कम लगती है और अगर भूख कम लगेगी तो आप खाना भी कम खायेगें और कम खाने से आपका वजन कंट्रोल में रहेगा और मोटापा भी नही बढ़ेगा।

 

नींबू पानी का सेवन करें

सबसे कारगर व सबसे पुराना उपाय नींबू पानी है जो पाचन क्रिया को ठीक करता है, विषहरन की प्रक्रिया को बढ़ाता है। मोटापा घटाने के लिए पाचन क्रिया ठीक होना बेहद जरूरी है क्योंकि यह शरीर की फालतू चर्बी को जलाने में पोषक तत्व प्रदान करता है। साथ ही ये मेटाबोलिस्म को कम करने वाले पदार्थों को बॉडी से बाहर निकलता है। जिसे आपका मोटापा कम होता है।

 

सौंफ का उपयोग करें

सौफ के बीजो में मूत्रवर्धक गुण होते है जो मोटापा कम करने में लाभकारी माना जाता है। सौफ के बीजो को सुखा कर भून ले और फिर इसको पीस कर पाउडर बना ले, इस पाउडर को रोज दिन में दो बार डेढ़-डेढ़ चम्मच लेकर गरम पानी के साथ सेवन करे। यह मोटापे को control करता है। एक बड़े गिलास पानी को उबाल ले और उबालते समय इसमें एक चम्मच सौंफ डाल दे। दो मिनट उबालने के बाद इस पानी को ठंडा होने पर सेवन करें। इस उपाय को 2 माह तक प्रतिदिन करें और परिणाम देखे, शीघ्र ही मोटापा (Motapa) नियंत्रित होने लगेगा।

 

त्रिफला चूर्ण का सेवन

त्रिफला चूर्ण का सेवन भी मोटापा नियंत्रित करने में सहायक होता है। इसके लिए 10 ग्राम त्रिफला चूर्ण एक गिलास पानी में अच्छे से कुछ देर तक उबाले और छानकर सुबह-सुबह सेवन करें।

 

करी के पत्ते का सेवन करें

करी पत्ते में Alkaloid पाया जाता है जो वजन कम करने के लिए अच्छा तरीका है। रोज सुबह 4 से 5 ताज़ा करी पत्ते का सेवन करने से मोटापा कम होता है साथ ही मोटापा के कारण हुए मधुमेह को भी कम करने में मदद करता है।

 

एलोवेरा (Aloe Vera) का उपयोग करें

एलोवेरा में कुछ ऐसे गुण होते हे जिनसे मोटापा कम किया जा सकता है। क्योंकि ये मेटाबॉलिज़्म को उतेजीत करता है और energy level को बढ़ाता है। ये भी पाचन क्रिया को ठीक करता है और पेट को विषाक्त तत्व को बाहर निकलता है Aloe Vera की पत्तियों में से गुदा निकाल कर एक कप पानी में डालकर मिलाए और उसका सेवन करे।

 

ग्रीन टी का उपयोग करें

आजकल ग्रीन टी भी काफी लोकप्रिय माना जा रहा जो मोटापा या वजन कम करने में काफी मदद करता है। ग्रीन टी में epigalllocatechn -३-gallate (EGCG) नामक योगिक पाया जाता है जो बॉडी के फेट को कम करने मदद करता है और शरीर में बनने वाली चर्बी को कम करता है।

 

खीरा का उपयोग करें

क्या आपको पता है कि खीरे मे 90% पानी होता है? खीरे फाइबर समृद्ध और कोलेस्ट्रॉल मुक्त होते हैं। यह आपको ताज़ा रखते हैं, विषाक्त पदार्थों को शरीर से निकालते हैं एवं आपकी त्वचा में सुधार लाते हैं।

 

लौकी खाएं

लौकी भी खीरे की तरह फाइबर से समृद्ध होती है और उसमे बिल्कुल वसा नही होती, आप लौकी की सब्ज़ी बना के खा सकते हैं या इसका रस निकाल कर भी पी सकते हैं।

 

सुबह पैदल चले

रोज सुबह जल्दी उठकर कम से कम 15 मिनट मॉर्निंग वॉक पर जाना चाहिए और साथ ही शाम को भी हमें खाना खाने के बाद टहलना चाहिए। यह मोटापा घटाने का सरल एवं प्राकृतिक उपाय है जिससे शरीर निरोगी रहता है।

 

हरी सब्जियों का सेवन करे

हरी सब्जियों से हमारा weight control रहता जिसके कारण हमारा मोटापा नही बढ़ता है।